शेयर बाजार में दिख रही सुस्ती, सेंसेक्‍स 31000 अंक के नीचे

0
54

बीते मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इकोनॉमी को बूस्‍टर डोज के तौर पर 20 लाख करोड़ के पैकेज का ऐलान किया. इसके बाद लगातार दो दिन वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण प्रेस कॉन्‍फ्रेंस कर चुकी हैं.

इन दो दिनों में उन्‍होंने एमएसएमई, रियल एस्‍टेट, टैक्‍सपेयर्स, किसान, प्रवासी मजदूर समेत कई वर्ग के लिए बड़े ऐलान किए. लेकिन इन सभी घोषणाओं से शेयर बाजार उत्‍साहित नहीं है. यही वजह है कि लगातार दूसरे दिन भारतीय शेयर बाजार में सुस्‍ती छाई हुई है. मामूली बढ़त के साथ खुलने के बाद कुछ ही मिनटों में सेंसेक्‍स 200 अंक से ज्‍यादा लुढ़क कर 31 हजार अंक के नीचे आ गया. वहीं निफ्टी करीब 40 अंक की गिरावट के साथ 9100 अंक के स्‍तर पर कारोबार कर रहा था.

गुरुवार को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस कर राहत पैकेज का ब्यौरा जनता के सामने रखा था. इस दिन बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 885.72 अंक या 2.77 प्रतिशत के नुकसान से 31,122.89 अंक पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान ये 1000 अंक तक लुढ़क गया था. इसी तरह एनएसई निफ्टी 240.80 अंक या 2.57 प्रतिशत के नुकसान से 9,142.75 अंक पर बंद हुआ.

क्‍या है निराशा की वजह?
बाजार के जानकारों की मानें तो बीते कुछ महीनों की हालत को देखें तो शेयर बाजार को बूस्‍ट के लिए तत्‍काल राहत की जरूरत है. ऐसे में निवेशकों को उम्‍मीद थी कि सीधे तौर पर फायदा पहुंचाया जाएगा. इंडस्‍ट्री को लग रहा था कि सीधे तौर पर बड़ा आर्थिक पैकेज दिया जाएगा. लेकिन सरकार के दो दिनों के ऐलान से ऐसा लगने लगा है कि कारोबार जगत को सीधे तौर पर राहत नहीं मिलने वाली है.

सरकार के उपाय लॉन्‍ग टर्म में राहत देने वाले जरूर हैं. हालांकि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण अभी और घोषणाएं करने वाली हैं. बाजार को इस पैकेज का भी इंतजार है.

भारतीय बाजार पर अमेरिका और चीन के बीच तनाव का भी असर देखने को मिल रहा है. दरअसल, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने दुनियाभर में कोरोना वायरस के फैलने के मद्देनजर चीन से सारे रिश्ते तोड़ने की धमकी दी है. ट्रंप ने एक इंटरव्‍यू में कहा, “कई चीजें हैं जो हम कर सकते हैं. हम सारे रिश्ते तोड़ सकते हैं.” बता दें कि पिछले कई हफ्तों से राष्ट्रपति पर चीन के खिलाफ कार्रवाई करने का दबाव बढ़ रहा है. सांसदों और विचारकों का कहना है कि चीन की निष्क्रियता की वजह से वुहान से दुनियाभर में कोरोना वायरस फैला है.

इससे पहले बुधवार को शेयर बाजार पर पीएम नरेंद्र मोदी के राहत पैकेज ऐलान का असर दिखा. दरअसल, मंगलवार को रात 8 बजे पीएम मोदी ने 20 लाख करोड़ के पैकेज का जिक्र किया था. इसके अगले कारोबारी दिन यानी बुधवार को सेंसेक्स 637 अंक की छलांग के साथ 32,000 अंक के पार निकल गया. दिन में कारोबार के दौरान बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स एक समय 1,474.36 अंक ऊंचा चला गया था. हालांकि, बाद में मुनाफावसूली हुई और अंत में यह 637.49 अंक या 2.03 प्रतिशत की तेजी के साथ 32,008.61 अंक पर बंद हुआ.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here