कोविड टेस्ट न कराने वालों के विरुद्ध होगी कानूनी कार्रवाई

0
665

उपायुक्त ऊना राघव शर्मा ने कोविड टेस्ट न कराने वालों के विरुद्ध कड़ी कानूनी कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ एक महत्वपूर्ण बैठक में डीसी ने कहा कि समय पर टेस्ट न करवाने की वजह से मृतकों का आंकड़ा लगातार बढ़ रहा है तथा मरीज का देरी से अस्पताल पहुंचना घातक साबित हो रहा है। उन्होंने कहा कि इसीलिए आवश्यक है कि कोरोना संक्रमित मरीज के संपर्क में आए सभी व्यक्तियों के अनिवार्य रूप से टेस्ट किए जाएंगे। अगर कोई व्यक्ति टेस्ट कराने में आनाकानी करता है, तो उसके विरुद्ध एफआईआर भी दर्ज की जा सकती है।

राघव शर्मा ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी आनाकानी करने वाले व्यक्तियों की सूची संबंधित एसडीएम व डीएसपी के साथ साझा करें, ताकि कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जा सके। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग को टेस्टिंग में तेजी लाने को भी कहा तथा निर्देश दिए कि सभी सरकारी कार्यालयों में तैनात कर्मचारियों व अधिकारियों के कोविड टेस्ट अनिवार्य रूप से करवाए जाएं। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग एक रोस्टर जारी करेगा, जिसमें प्रत्येक विभाग के कर्मचारियों की टेस्टिंग के लिए तिथि निश्चित होगी।

जिला दंडाधिकारी ने कहा कि होम आइसोलेशन में रह रहे कोविड मरीजों की सहायता के लिए उन्हें जल्द ही एक बुकलेट उपलब्ध करवाई जाएगी, जिसमें होम आइसोलेशन से संबंधित सभी जानकारियां होंगी। इसमें सभी महत्वपूर्ण फोन नंबर भी दर्ज होंगे। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन ऊना होम आइसोलेशन में रह रहे कोविड मरीजों को पल्स ऑक्सीमीटर उपलब्ध करवाने की संभावनाएं भी तलाश रहा है, ताकि ऑक्सीमीटर की मदद से वह ऑक्सीजन के स्तर की निगरानी रख सकें। राघव शर्मा ने कहा कि कोविड के संबंध में किसी भी तरह की लापरवाही जानलेवा सिद्ध हो रही है, इसलिए टेस्ट कराने में देरी न करें। अगर किसी भी व्यक्ति को बुखार, खांसी, जुकाम, गला खराब, सांस लेने में दिक्कत जैसे कोई भी लक्षण हैं, तो तुरंत नजदीकी स्वास्थ्य संस्थान में जाकर अपना जांच कराएं। यह व्यक्ति व उसके परिवार के हित में है।

उन्होंने कहा कि जिला में अधिकतर मौतें देर से अस्पताल पहुंचने वाले मरीजों अथवा पहले से ही बीपी, शुगर, गुर्दे या दिल की बीमारी से ग्रस्त व्यक्तियों की हो रही हैं। बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त डॉ. अमित कुमार शर्मा, सीएमओ डॉ. रमण कुमार शर्मा, जिला सर्विलांस अधिकारी डॉ. अजय अत्री, डॉ. निखिल शर्मा उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here