इस अस्पताल से आती हैं चीखने की आवाजें, हैरान कर देगी आपको ये डराने वाली कहानी

0
167
आप सभी ने बहुत सी सच्ची भूतों की कहानियां सुनी होंगी। जिसे कई लोग सच मानते हैं तो कई लोग झूठ। भूत का नाम आते ही सभी के मन में दर पैदा हो जाता है। साथ ही में ये सवाल भी के भूत होते भी हैं या नहीं। लेकिन इस सवाल का जवाब किसी के पास भी नहीं है। आज हम भी आपको ऐसी ही एक सच्ची घटना के बारे में आपको बताने जा रहे हैं जो इन दिनों सोशल मीडिया पर एक वीडियो बहुत वायरल हो रही है। जी हाँ, ये वीडियो मध्यप्रदेश के इंदौर के एमवाय अस्पताल का है और इसमें बेसमेंट से चीखने की आवाज सुनाई दे रही हैं। बताया जा रहा हैं कि यह घटना पिछले कई दिनों से हो रही हैं और इसको लेकर सभी में दहशत भी फ़ैल गई हैं। आपको बता दें के इस से जुड़ी एक कहानी भी है जो बहुत वायरल हो रही हैं।
बताया गया है कि 15-20 दिन पहले 90 फीसदी तक जल चुकी एक महिला को एमवाय अस्पताल लाया गया था, लेकिन कुछ ही घंटों में उसकी मौत हो गई थी। इसके बाद परिजन उसकी लाश को तो ले गए, लेकिन उसकी आत्मा यहां भटक रही है, जो रोज रात को चीखती-चिल्लाती है।
ऐसे में अस्पताल प्रशासन भी हरकत में आ गया और एक जांच टीम बिठा दी। इस दौरान जो पता चला, उसने सारा भ्रम ही दूर कर दिया। जांच में सामने आया कि हड्डी रोग विभाग में भर्ती एक मरीज की जब ड्रेसिंग की जाती थी, तब वह कराहता था और उसकी आवाज रात के अंधेरे में गूंजती रहती थी।
हालांकि फिर भी संतुष्टि के लिए 25 जुलाई की रात टीम को तैनात किया गया। इस दौरान रात को कोई भी आवाज सुनाई नहीं दी। इसके बाद जब मरीज के बारे में पता किया गया कि वो कहां था तो सामने आया कि उस रात वो ऑपरेशन थियेटर में था। इसलिए किसी को भी चीखने-चिल्लाने की आवाज सुनाई नहीं दी। अस्पताल प्रबंधन इस बात से इनकार नहीं करता कि आवाज नहीं आती है, लेकिन उसने पुष्टि की है कि वह आवाज उस मरीज की ही है जो हड्डी रोग विभाग में भर्ती है।
अब अस्पताल प्रबंधन उन लोगों पर एफआईआर दर्ज करवाकर जेल भेजने पर विचार कर रहा है, जिन्होंने अस्पताल में भूत के होने की अफवाह उड़ाई है। अस्पताल अधीक्षक डॉ। पीएस ठाकुर का कहना है कि अस्पताल का ढांचा पुराना है और वेटिंलेटर होने की वजह से रात के सन्नाटे में आवाज पूरे अस्पताल में गूंजती है। वो आवाज अस्पताल में भर्ती मरीज की ही है। किसी ने भूत की अफवाह उड़ा दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here