7 माह बाद कालका-शिमला हैरिटेज ट्रैक पर सुनाई दी छुक-छुक

0
311

लंबे समय बाद कालका-शिमला हैरिटेज ट्रैक पर बुधवार को टॉय ट्रेन का संचालन शुरू हुआ। कोरोना वायरस के कारण लगे लॉकडाउन के दौरान इस ट्रेन को मार्च माह के दूसरे पख्वाड़े में बंद कर दिया गया था। अब सात महीने के इंतजार के बाद इस ऐतिहासिक धरोहर पर फिर से स्पेशल ट्रेन की छुक-छुक सुनाई दी। पर्यटकों के लिए यह बहुत खुशी की बात है कि ऐतिहासिक ट्रैक पर फिर से ट्रेन सेवा शुरू हो रही है। फेस्टिवल सीजन को देखते हुए आम लोगों व पर्यटकों को सहूलियत देने के लिए स्पेशल ट्रेन चलाई गई हैं।

 

बुधवार को कालका से दोपहर 12:10 बजे एक्सप्रेस ट्रेन शिमला के लिए रवाना हुई। यह ट्रेन शिमला में शाम 5:20 के करीब पहुंची। गुरूवार को यह ट्रेन शिमला से सुबह 10:40 बजे रवाना होगी और शाम 4:10 बजे कालका पहुंचेगी। फेस्टिवल सीजन के मद्देनजर रेलवे ने इस स्पेशल ट्रेन के संचालन का फैसला लिया है। पर्यटकों के लिए इस ट्रेन का शुरू होना बड़ी राहत की बात है। पहाड़ों में कालका से शिमला तक के सफर का पर्यटक खूब आनंद लेते हैं।

फस्र्ट क्लास कोच का किराया 440 रुपए
शिमला रेलवे स्टेशन के अधीक्षक प्रिंस सेठी ने बताया कि 7 कोच वाली इस स्पेशल ट्रेन में साधारण कोच का किराया 330 रुपये है, जबकि फस्र्ट क्लास कोच का किराया 440 रुपये है। उन्होंने कहा कि ट्रेन में सफर कर शिमला पहुंचने वाले यात्रियों का शिमला रेलवे स्टेशन पर स्वागत किया गया। उल्लेखनीय है कि कालका-शिमला रेलमार्ग पर 102 सुरंगें और 869 पुल बने हुए हैं। इस रास्ते में 919 घुमाव आते है, जिनमें से सबसे तीखे मोड़ पर ट्रेन 48 डिग्री के कोण पर घूमती है। शिमला आने वाले अधिकतर पर्यटक बस की जगह ट्रेन से सफर करना पसंद करते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here