महिला नेत्री को आइटम कहने पर बुरे फंसे पूर्व मुख्यमंत्री नेता कमलनाथ

0
191

चुनाव आयोग ने मध्य प्रदेश विधानसभा के उपचुनाव में राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की उम्मीदवार तथा मंत्री इमरती देवी पर आपत्तिजनक टिप्पणी किए जाने के मामले में नोटिस जारी किया है। आयोग ने कमलनाथ को 48 घंटे के भीतर इस नोटिस का जवाब देने को कहा है। आयोग द्वारा बुधवार को यहां जारी विज्ञप्ति के अनुसार भाजपा ने 18 अक्टूबर को यह शिकायत दर्ज की थी कि कमलनाथ ने ग्वालियर के डाबरा में अपने एक चुनावी भाषण के दौरान श्रीमती इमरती देवी को “आइटम” बताया था और यह आदर्श चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन है। विज्ञप्ति में कहा गया है कि मध्य प्रदेश के मुख्य चुनाव अधिकारी ने शिकायत की जांच की और इससे सही पाया।

आयोग ने भी कमलनाथ के वीडियो का ट्रांसक्रिप्ट करने के बाद इस आरोप को सही पाया। विज्ञप्ति में कमलनाथ उद्धृत करते हुए जो पंक्तियां पेश की गई है उसमें पूर्व मुख्यमंत्री ने इमरती देवी का नाम न लेते हुए उन्हें आइटम बताया है आयोग ने 48 घंटे के भीतर कमलनाथ को अपना स्पष्टीकरण देने को कहा है।

उधर, मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अनुसूचित जाति वर्ग की महिला एवं मंत्री इमरती देवी के खिलाफ अपमानजनक बयान के विरोध में आज कहा कि मां, बहन और बेटी का अपमान किसी भी कीमत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। चौहान जिले के सुरखी विधानसभा क्षेत्र के सीहोरा में आयोजित सभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अनुसूचित जाति की महिला को अपमानित किया। उन्होंने कहा कि माँ, बहन और बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने कांग्रेस के 15 महीने और भाजपा के छह माह के कार्यकाल में हुए विकास को गिनाते हुए कहा कि अभी तो यह ट्रेलर है, पिक्चर बाकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here