इस राज्य में अगले 24 घंटों में बारिश के आसार, मौसम विभाग ने जारी किये अनुमान

0
101
बंगाल की खाड़ी में बना कम दबाव का क्षेत्र अब अति कम दबाव क्षेत्र में बदल चुका है और अब इसके प्रभाव से एक दो दिन के अंदर प्रदेश में अधिकांश स्थानों पर एक बार फिर हल्की से मध्यम वर्षा के आसार हैं। मौसम की गतिविधियों में परिवर्तित होने से बीते चौबीस घंटों के दौरान राज्य में एक दर्जन स्थानों पर हल्की बारिश दर्ज की गई। राज्य के पश्चिमी मध्यप्रदेश के धार में दूसरे स्थानों की अपेक्षा ज्यादा वर्षा हुई। वहीं महाकौशल अंचल के जबलपुर, छिंदवाड़ा, मंडला, नरसिंहपुर और सिवनी के अलावा, पर्यटन नगरी पचमढ़ी, खंडवा, खरगौन, दमोह, नौगांव, मलाजखंड और उमरिया में कुछ स्थानों पर हल्की बारिश हुई है।
मौसम विभाग की माने तो आगामी चौबीस घंटों के दौरान रीवा, शहडोल, जबलपुर, सागर संभागों के जिलों में अनेक स्थानों पर तथा इंदौर, उज्जैन, होशंगाबाद एवं भोपाल संभागों के जिलों में कुछ स्थानों पर हल्की बारिश की संभावना है। वहीं ग्वालियर और चंबल संभागों में आने वाले जिले में मौसम शुष्क रहेगा।
भोपाल मौसम विज्ञान केन्द्र के वैज्ञानिक ए के शुक्ला ने बताया कि बंगाल की खाड़ी में बना कम दबाव का क्षेत्र यह अब अति कम दबाव में बदल चुका है। अभी इस सिस्टम का असर वही पर बना है। उन्होंने कहा कि इस सिस्टम का असर शाम तक उत्तर पश्चिम दिशा के उड़ीसा, छत्तीसगढ़ होते हुए पूर्वी मध्यप्रदेश की ओर पहुंचेगा।
शुक्ला ने बताया कि सिस्टम के प्रभाव से मौसम में आज से गतिविधियों में वृद्धि होना प्रारंभ हो चुका है। उन्होंने कहा राजधानी भोपाल में आज शाम के समय गरज चमक की स्थिति के साथ वर्षा का अनुमान है। इसके अलावा राज्य के अन्य स्थानों पर बारिश हो सकती है। उन्होंने बताया कि बंगाल की खाड़ी में बना सिस्टम का असर सबसे अधिक पूर्वी मध्यप्रदेश में पड़ेगा। प्रदेश की राजधानी भोपाल में आज सुबह से धूप खिली रही। इसके साथ ही उमस का असर बना रहा। यहां आज शाम तक गरज चमक के अलावा हल्की बारिश हो सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here