आतंकवाद के मुद्दे पर चीन ने की पाकिस्तान की तरफदारी

0
163

आतंकवाद के मुद्दे पर चीन ने एक बार फिर पाकिस्तान की तरफदारी की है. भारत और अमेरिका के संयुक्त बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए चीन ने पाकिस्तान को बचाने और उसकी तरफदारी की. चीन ने कहा कि पाकिस्तान ने आतंकवाद के खिलाफ अभूतपूर्व काम किया है. इस समय आतंकवाद सभी देशों की आम समस्या है.

चीन ने कहा कि हम किसी भी तरह के आतंकवाद के खिलाफ है, क्योंकि दुनिया की सुरक्षा के लिए यह सबसे बड़ी चुनौती है. हम किसी भी देश को आतंकवाद के लिए जिम्मेदार ठहराने का विरोध करते हैं. आतंकवाद और कोरोना मानव जाति के दुश्मन हैं. हमें लगता है कि पाकिस्तान, अमेरिका का दुश्मन नहीं है.

गौरतलब है कि भारत और अमेरिका ने गुरुवार को एक संयुक्त बयान जारी कर पाकिस्तान से कहा कि वह त्वरित कार्रवाई कर यह सुनिश्चित करे कि उसकी धरती से आतंकी गतिविधियों को अंजाम न दिया जाए. बयान में यह भी कहा गया कि आतंकी हमलों के साजिशकर्ताओं को कानून के कटघरे में खड़ा किया जाए जिसमें मुंबई का 26/11 और पठानकोट हमले शामिल हैं.

9 और 10 सितंबर को वॉशिंगटन में इंडिया-यूएस काउंटर टेररिज्म जॉइंट वर्किंग ग्रुप की 17वीं बैठक हुई जिसमें आतंकवाद से जुड़े मुद्दे को गंभीरता से उठाया गया. इस वर्चुअल बैठक में दोनों देशों ने आतंकवाद पर प्रहार करने और सीमा पार आतंकी गतिविधियों को रोकने पर प्रतिबद्धता जताई. दोनों देशों ने कड़े शब्दों में आतंकवाद की आलोचना की.

संयुक्त बयान में कहा गया कि पाकिस्तान अपनी धरती से आतंकी गतिविधियों पर रोक लगाना सुनिश्चित करे और मुंबई-पठानकोट जैसे हमले के साजिशकर्ताओं पर त्वरित कार्रवाई कर कानून के कटघरे में खड़ा करे. आतंकवाद के खिलाफ जंग में अमेरिका ने भारत को हर मोर्चे पर सहयोग देने का वादा किया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here