शरीर के इन 5 हिस्सों पर जल्दी दिखने लगता है बुढ़ापा

0
1123

हो सकता है कि आपने झुर्रियों को कम करने के लिए कुछ उपायों को भी आजमाया हो, लेकिन शायद ही ये उस हिस्से पर उतने कारगर हुए होंगे। आज हम आपको शरीर के उन हिस्सों के बारे में बताएंगे जो उम्र बढ़ने के साथ ही ढलना शुरू कर देते हैं।
झुर्रियां या फाइन लाइन्स उन परतों को कहते हैं, जो स्किन पर पैदा हो जाती हैं। 20 साल की उम्र के बाद से हमारी स्किन में कोलाजेन का उत्पादन कम होने लगता है, जिससे स्किन में कसाव कम होने लगता है। वे लोग जो धूप में रहते हैं, गलत खान पान रखते हैं या फिर जिन महिलाओं में हार्मोन्स की दिक्कत है उनके चेहरे पर झुर्रियां काफी जल्दी आती हैं।

माथे पर झुर्रियों के निशान सबसे पहले दिखाई देने शुरू होते हैं। रेटिनॉल युक्त उत्पाद झुर्रियों को कम करने के लिए कोलेजन बढ़ाते हैं, साथ ही आपकी त्वचा को चमकदार और नरम बनाने के लिए मृत त्वचा को एक्सफोलिएट करते हैं। त्वचा को फिर से जवां बनाने के लिए आपको रात में फेशियल नाइट क्रीम का इस्तेमाल करना चाहिए। इसके अलावा अपने आपक को सूरज की कड़ी धूप, तनाव और स्मोकिंग से दूर रखिए। ढेर सारा पानी पीजिए और हरी सब्जियों का सेवन कीजिए।

उम्र बढ़ने के साथ, आपकी पलकें खिंचती हैं और इस क्षेत्र की मांसपेशियां पहले की तुलना में कमजोर हो जाती हैं। आपकी पलकों के ऊपर और नीचे अतिरिक्त वसा इकठ्ठा होना शुरू हो जाएगा, जो आंखों के नीचे आई बैग का कारण बनेगा। आंखों के आस-पास की ड्रायनेस को कम करने के लिए अच्छी क्वालिट की मॉइस्चराजिंग क्रीम और अंडर आई क्रीम जरूर लगाएं।

गर्दन की त्वचा चेहरे की तुलना में पतली होती है। इस प्रकार, गर्दन अन्य शरीर के हिस्सों की तुलना में झुर्रिदार दिखाई पड़ सकती है। यदि आप 30 की उम्र के आस पास हैं, तो आप पाएंगी कि आपकी गर्दन की त्वचा अभी से ही लटकना शुरू हो गई होगी। आप चाहें तो इसे रोकने के लिए वही स्किन केयर प्रोडक्ट का यूज कर सकती हैं, जिसे आप चेहरे की चमक बढ़ाने के लिए लगाती हैं।

हमारे हाथ रोजाना किसी न किसी चीज के संपर्क में आते हैं। हाथों में 20 साल की उम्र से ही झुर्रियां दिखाई देनी शुरू हो जाती हैं। लेकिन हाथों को जो सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचाती है, वह है सूरज की यूवी किरण। इसलिए, आपको अपने हाथों पर सनस्क्रीन जरूर लगाना चाहिए। साथ ही यह भी सुनिश्चित करें कि रात में सोने से पहले भी हाथों में मॉइस्चराइजर लगाएं। आपके हाथों में जितनी ज्यादा नमी रहेगी, वह उतने ही ज्यादा सुंदर लगेंगे।

आपके होठों के आसपास की महीन रेखाएं अक्सर आपकी आंखों और माथे की झुर्रियों के बाद विकसित होती हैं। 20 साल की उम्र के बाद, शरीर में लगभग 1 प्रतिशत कम कोलेजन का उत्पादन होने लगता है। जिसकी वजह से त्वचा पतली और कम लोचदार हो जाती है। उम्र बढ़ने के साथ-साथ त्वचा भी कम तेल का उत्पादन करती है, जिससे स्किन में सूखापन आ जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here