मनचाही संतान प्राप्ति के लिए अपने घर में लगाएं ये पौधा !

0
110

सनातन धर्म में पेड़-पौधों की भगवान मानकर पूजा की जाती है। पीपल, बरगद और तुलसी का पूजन करने से घर में सुख, समृद्धि आती है। तो वहीं हमारी अनेक इच्छाएं पूरी हो जाती हैं। इन पेड़ों की पूजा मात्र से आपकी अनेकों समस्याओं का समाधान हो जाता है। लेकिन इन पौधों के अलावा भी कई ऐसे पौधे हैं। जो हमारे जीवन की जटिल समस्याओं का समाधान करते हैं। जिनके लगाने मात्र से मनोकामनाएं पूर्ण हो जाती हैं। यहां तक कि इन पौधों को लगाने से मनचाही संतान की प्राप्ति भी हो जाती है। तो आइए हम जानते इन पौधों के बारे में।

पलास का पौधा- जिन लोगों को संतान की प्राप्ति नहीं हुई है, उन लोगों को अपने घर में पलास का पौधा जरुर लगाना चाहिए। पलास का पौधा तीन प्रकार का होता है। पहले पौधे पर लाल या नारंगी रंग के फूल आते हैं। दूसरे पौधे पर पीले फूल आते हैं। और वहीं तीसरे पौधे पर सफेद फूल आते हैं। पलास के फूल को टेसू कहा जाता है। वहीं कुछ स्थानों पर इसे ढाक के नाम से भी जाना जाता है। शास्त्रों के अनुसार पलास के तीनों ही तरह के पौधे चमत्कारिक गुणों से भरपूर होते हैं, लेकिन जो सफेद पलास होता है वो बहुत ही अद्भत चमत्कारों से भरा हुआ होता है। इस पौधे के घर में लगाने मात्र से सुख, समृद्धि की प्राप्ति होती है। और लगाने वाले के वंश में वृद्धि होती है। सफेद पलास के पत्तों से पुत्ररत्न की प्राप्ति होती है। इससे पत्तों का उपयोग ऐसे लोगों को करना है, जिन लोगों के घर में कन्या संतान है या बारबार कन्या संतान ही जन्म ले रही होती है। और वे लोग पुत्र प्राप्ति की इच्छा रखते हैं। ऐसी महिला को एक पलास का कोमल पत्ता गाय के दुध में पीसकर मासिक धर्म के दौरान पिला दें। तो होने वाली संतान पुत्र के रूप में पैदा होगी। परन्तु यह ध्यान रखें कि जिस गाय का दुध आपने प्रयोग किया है, उस गाय का बच्चा भी बछड़ा ही होना चाहिए। और उस दौरान भी बछड़ा दूध पीता हो। तो इसके बाद ये उपाय पुत्र प्राप्ति के लिए अचूक उपाय माना जाता है।

यदि कोई महिला गर्भवती हो, तथा उसका और उसके पति का रंग सांवला हो। और वो दोनों चाहते हों कि उनका होने वाला बच्चा अत्यंत गोरा हो, और स्वस्थ हो तो गर्भधारण के दौरान पलास का एक पत्ता गाय के दुध में पीस कर पीने से संतान गोरी, और सुन्दर पैदा होती है। अगर माता-पिता का रंग सांवला है

जामुन का पेड़- जिन लोगों के घर में पुत्र हैं, लेकिन कन्या नहीं है। और ऐसे लोग अपने घर में कन्या पुत्री के रूप में चाहते हैं, तो उन लोगों को अपने घर में जामुन का पेड़ लगाना चाहिए।

जिन लोगों के कोई संतान नहीं है। वे दंपत्ति जामुन और पलास में से कोई भी पौधा लगा सकते हैं। उन्हें निश्चित ही फायदा होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here