पत्नी ने बीयर में नींद की गोलियां दे पति को सुलाया, फिर प्रेमी से करवाया ये घिनौना काम

0
19

उत्तराखंड में रुद्रपुर के ट्रांजिट कैंप में पत्नी ने अपने प्रेमी से मिलकर अपने पति की गोली मारकर हत्या करवा दी। पुलिस ने करीब छह घंटे के अंदर हत्या की इस वारदात का खुलासा कर पत्नी, उसके प्रेमी और दो अन्य आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है। थानाध्यक्ष ट्रांजिंट कैंप विद्यादत्त जोशी ने बताया कि समीर विश्वास पुत्र निताई सरकार अरविंद नगर वार्ड नंबर तीन ट्रांजिट कैंप में रहता था।

शुक्रवार देर रात समीर विश्वास की घर में सोते वक्त तमंचे से गोली मारकर हत्या कर दी गयी। पुलिस ने मामले में पड़ताल शुरू की और छह घंटे के भीतर समीर की पत्नी श्यामली, विश्वजीत राय मूलत: निवासी गूलरभोज थाना गदरपुर और हाल निवासी नारायण कॉलोनी ट्रांजिट कैंप, शिबू अधिकारी निवासी चंदनगढ़ थाना दिनेशपुर और महेश सरकार निवासी चंदनगढ़ थाना दिनेशपुर को गिरफ्तार कर लिया। एसओ जोशी ने बताया कि पूछताछ में आरोपियों ने हत्या की बात कबूल की। साफ हुआ कि श्यामली और विश्वजीत का प्रेम प्रसंग चल रहा था। श्यामली के कहने पर विश्वजीत अपने दो साथियों संग देर रात समीर के घर पहुंचा और उसे गोली मार दी।

बीयर में नींद की गोलियां मिलाकर पिलायीं : एसओ जोशी के अनुसार पूछताछ में श्यामली ने बताया कि शुक्रवार रात समीर ने बीयर पी। इस दौरान श्यामली ने मौका पाकर बीयर में नींद की गोलियां मिला दीं। समीर के सो जाने के बाद उसने दरवाजे खुले रखकर विश्वजीत को फोन कर बुला लिया। विश्वजीत बाइक पर शिबू और महेश के साथ पहुंचा। घर में घुसकर समीर को गोली मारी और फिर तीनों भाग निकले।

पति-पत्नी के बीच हुयी थी पंचायत : एसओ जोशी ने बताया कि पुलिस को बदमाशों के घर में घुसने और हत्या करने की सूचना मिली थी। लेकिन, जांच शुरू हुयी तो परतें खुलती गयीं। बताया कि आसपास के लोगों से पूछताछ में पता चला कि समीर को श्यामली और विश्वजीत के बारे में पता चल गया था। उसने श्यामली को विश्वजीत से दूर रहने को कहा था। इस मसले पर कुछ समय पहले पंचायत भी हुयी थी। यह जानकारी मिलने पर श्यामली से पूछताछ की गयी तो उसने सच उगल दिया।

ये सामान बरामद किया : पुलिस ने हत्यारोपियों के कब्जे से घटना में प्रयुक्त 315 बोर का तमंचा, एक 315 बोर का खोखा, बीयर में मिलाने के लिए लायी गयी नींद की गोलियां और एक बाइक बरामद की है।

एसएसपी ने टीम को ढाई हजार का इनाम दिया : हत्याकांड का चंद घंटों में ही खुलासा करने पर एसएसपी बरिंदरजीत सिंह ने पुलिस टीम को ढाई हजार रुपये का इनाम दिया है। टीम में सीओ अमित कुमार, थानाध्यक्ष विद्यादत्त जोशी, विजय सिंह, प्रदीप शर्मा, कौशल भाकुनी, अर्जुन गिरी, मनोज कुमार, धीरज वर्मा, नीरज शुक्ला, नरेश जोशी, दिनेश चन्द्र, राकेश उप्रेती, जितेन्द्र चौहान, मुकेश मेहरा और गोकुल टम्टा आदि शामिल रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here